शनिवार, फ़रवरी 18, 2012

उसने देखा इस नज़र से

उसने देखा इस नज़र से |
मैं गिरा अपनी नज़र से ||

अधर में बड़ी देर डोला |
टूटा पत्ता जब शज़र से ||

रात कितनी बाकी है अभी |
पूछे सन्नाटा गज़र से ||

साथ रखना दुआएँ माँ की |
बचाएंगी बुरी नज़र से ||

नज़र में ना चुभो किसीकी |
सबको बरतो इस नज़र से ||


नज़र न आए यार मेरा |
मगर नहीं है दूर नज़र से ||

आईना मैं हूँ तुम्हारा |
मुझको देखो इस नज़र से ||

दिल में अंक गई नजरे उसकी |
उसने देखा इस नज़र से ||